FUE हेयर ट्रांसप्लांट क्या है? जानिए इसकी प्रक्रिया और सम्पूर्ण खर्च !

0
246
Hair-Restoration

    ENQUIRY FORM

    गंजेपन का लाखों इलाज करने के बाद भी बाल जब नहीं उगते तो हेयर ट्रांसप्लांट ही एकमात्र ऐसा जरिया बचता है जिससे बालों को दोबारा उगाने की पूरी गुंजाईश की जा सकती है। वहीं हेयर ट्रांसप्लांट करने के दो मेजर तरीके है जिनमें से FUE हेयर ट्रांसप्लांट काफी प्रचलन में है। कम लागत, कम साइड-इफेक्ट्स आदि कई ऐसे कारण है, जो FUE हेयर ट्रांसप्लांट को लोकप्रिय बनाते है, तो चलिए एक नज़र डालते है, इसकी लोकप्रियता की तरफ ;

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) से जुडी खास बात !

    • फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) एक प्रकार का हेयर ट्रांसप्लांट है, जिसमें आपके शरीर के ख़ास हिस्से से कुछ बालों को निकाला जाता है और उसे शरीर के उस जगह पर लगाया जाता है जहाँ बाल नहीं है।
    • वहीं FUE हेयर ट्रांसप्लांट FUT हेयर ट्रांसप्लांट से ज्यादा लोकप्रिय है।
    • फॉलिकल्स को निकालने के लिए माइक्रोपंच टूल का इस्तेमाल किया जाता है।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) क्या है ?

    • FUE एक किस्म का हेयर ट्रांसप्लांट है, जिसमें शरीर के किसी हिस्से से कुछ बालों को निकाला जाता है और गंजेपन वाली जगह पर लगाया जाता है। 
    • जबकि FUT हेयर ट्रांसप्लांट में बालों सहित स्किन को भी निकाला जाता है और ट्रांसप्लांट किया जाता है। 
    • FUE की प्रक्रिया FUT हेयर ट्रांसप्लांट से बेहतर होती है। इसके बहुत कम साइड इफ़ेक्ट भी होते है और इसका रिकवरी टाइम भी बहुत अच्छा है।

    क्यों चुनना चाहिए फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) ?

    • इसे इसलिए चुनना चाहिए क्युकि यह सर्जरी के बाद कोई भी दिखाई देने वाला निशान नहीं छोड़ता है।
    • इसके अलावा, यह सिर के साथ-साथ शरीर पर भी किया जा सकता है।
    • प्राकृतिक बालों की बहाली प्रदान करती है ये प्रक्रिया।
    • स्ट्रिप्स के पिछले निशान आगे स्ट्रिप ट्रांसप्लांटेशन को असंभव बना देते है, तो उस स्थिति में, एफयूई हेयर ट्रांसप्लांट का इस्तेमाल किया जा सकता है।
    • पुनर्प्राप्ति प्रक्रिया आरामदायक है और इसके लिए कम समय की आवश्यकता होती है।
    • हेयर ट्रांसप्लांट के दौरान या बाद में कम से कम कोई दर्द नहीं होता।
    • स्थानीय संज्ञाहरण का उपयोग किया जाता है।
    • परिणाम आजीवन होते है, क्योंकि FUE प्रक्रिया के दौरान, बालों के रोम को खोपड़ी के स्वस्थ क्षेत्रों से निकाला जाता है जो बालों के झड़ने के प्रतिरोधी होते है।

    अगर आप बिना ज्यादा चीड़ फाड़ के अपने बालों को प्राकृतिक रूप से प्राप्त करना चाहती है, तो इसके लिए आपको लुधियाना में FUE हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी का चयन करना चाहिए।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) के लिए कितने ग्राफ्ट की जरूरत होती है ?

    • आपको प्राप्त होने वाले ग्राफ्ट की संख्या और प्रकार आपके बालों के प्रकार, गुणवत्ता, रंग और उस क्षेत्र के आकार पर निर्भर करता है, जहाँ आप प्रत्यारोपण कर रहे है।
    • सामान्य तौर पर, लगभग 6 से 8 घंटे की एक सिटिंग में FUE हेयर ट्रांसप्लांट के लिए ग्राफ्ट की संख्या 2500 से 3000 होती है।
    • यदि आपके पास गंजापन का उच्च स्तर है, तो आपको एक और सत्र की आवश्यकता हो सकती है। हालांकि, डॉक्टर तय करेंगे कि प्रत्येक दिन कितने ग्राफ्ट ट्रांसप्लांट किए जा सकते है।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) में खर्चा कितना आता है ?

    • इसका खर्चा कई बातों पर निर्भर करता है, जैसे – कितने बाल निकाले और प्रत्यारोपित किए गए। 
    • हेयर ट्रांसप्लांट करने के लिए आपके एरिया में कितने सर्जन है। और साथ ही सर्जन का अनुभव कितना है। 
    • हेयर ट्रांसप्लांट के दौरान किस प्रकार के उपकरण को प्रयोग में लाया जा रहा है, इस बात पर भी ये सर्जरी निर्भर करती है। 

    वहीं आप चाहें तो FUE सर्जरी को किफायती दाम में ए एस जी हेयर ट्रांसप्लांट सेंटर से भी करवा सकते है। और तो और इस सर्जरी को यहाँ पर काफी अनुभवी डॉक्टरों के द्वारा किया जाता है।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) की प्रक्रिया क्या है ?

    • हेयर फॉलिकल निकालने के लिए बालों को शेव करना।
    • माइक्रोपंच टूल की मदद से फॉलिकल को निकालना।
    • जहाँ पर फॉलिकल ट्रांसप्लांट करना है वहां पर शेव करना।
    • अब सर्जन ट्रांसप्लांट करने वाली जगह पर सुई या किसी शार्प टूल की मदद से छोटे-छोटे छेद करेंगे। 
    • छेद में निकाले गए हेयर फॉलिकल फिक्स किए जाएंगे।
    • सर्जन रिकवरी वाली जगह पर बैंडेज लगाकर आपको छुट्टी दे सकते है।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) प्रक्रिया का चयन करने से पहले पुणे में हेयर ट्रांसप्लांट की लागत कितनी है इसके बारे में जरूर जानकारी हासिल करें।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) से पहले क्या सावधानी बरते ?

    • अपनी सर्जरी से कम से कम एक दिन पहले धूम्रपान न करें।
    • सर्जरी से 2 सप्ताह पहले किसी भी तरह के विटामिन की खुराक न लें।
    • सर्जरी के लगभग 2 सप्ताह पहले से एंटीडिप्रेसेंट लेने से बचने की कोशिश करें।
    • अपनी सर्जरी के 3 दिन पहले से शराब न पिएं।
    • सर्जरी के 2 सप्ताह पहले से एस्पिरिन या ब्लड थिनर न लें।
    • सर्जरी से पहले अपने बाल नहीं कटवाएं।
    • अपनी खोपड़ी में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने के लिए कुछ हफ्तों के लिए हर दिन 10 से 30 मिनट तक खोपड़ी की मालिश करें।
    • अगर सर्जन ने किसी तरह की दवाई खाने का सुझाव दिया है तो उसे जरूर खाएं।
    • सर्जरी से पहले एक इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम (ECG) और ब्लड टेस्ट जरूर करवाएं।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) के बाद क्या सावधानी बरते ?

    • शुरुआत के 3 से चार दिन आप बेचैनी महसूस कर सकते है, लेकिन अपने बालों को 3 दिनों तक न धोने से बचे।
    • जब बालों को धोना शुरू करें तो ध्यान दें कि आपका शैम्पू हार्ड न हो और उसमें सेंट आदि कई केमिकल बिलकुल भी न हो। वहीं जब आपकी रिकवरी हो जाए तो आप आप कोई भी शैम्पू यूज कर सकते है।
    • जल्दी रिकवरी के लिए काम से कुछ दिनों की छुट्टी ले लें।
    • ऐसे किसी भी खाद्य पदार्थ का सेवन न करें जिसे डॉक्टर ने मना किया हो।
    • कम से कम 3 सप्ताह तक अपने नए बालों को कंघी या ब्रश न करें।
    • जब तक आपके सर्जन की तरफ से कुछ नहीं कहा जाता तब तक आपको टोपी या सिर में पहनने वाले किसी अन्य वस्त्र का उपयोग नही करना चाहिए।
    • हेयर ट्रांसप्लांट के बाद कम से कम एक से दो हफ्ते तक किसी प्रकार की शारीरिक गतिविधि न करें।
    • कोई भी ऐसा काम न करें जिसे करने से सर्जन ने मना किया हो।

    फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) के नुकसान क्या है ?

    • सर्जरी वाली जगह पर ब्लीडिंग, पानी का छोड़ना या पपड़ी बनने की समस्या निकल कर सामने आती है। 
    • सर्जरी वाली जगह के आस-पास दर्द और सूजन की समस्या का सामना करना। 
    • फॉलिकल में सूजन की समस्या का आना। 
    • सर्जरी वाली जगह पर झनझनाहट या सुन्नता का महसूस होना।

    सुझाव :

    इस सर्जरी को करवाने के दौरान आपको सावधानियों का खास ध्यान रखना चाहिए और किसी भी तरह की समस्या आने पर आपको डॉक्टर का चयन करना चाहिए। वहीं सामान्य बाल झड़ने की समस्या आने पर आपको इस सर्जरी का चयन नहीं करना चाहिए।  

    निष्कर्ष :

    झड़ते बालों की समस्या से परेशान लोगों के लिए फालीक्युलर यूनिट एक्सट्रैक्शन (FUE) एक बेहतरीन उपाय है। वहीं इस सर्जरी की मदद से आप अपने खूबसूरत बालों को वापिस पा सकते है। पर ध्यान रहें इस सर्जरी का चयन करने से पहले ये जरूर देखे की सर्जन का अनुभव कितना पुराना है और साथ ही उसने पहले से काफी बालों की सर्जरी को किया हो