गंजेपन की समस्या का खात्मा होगा अब चुटकियों में !

0
374
गंजेपन से निजात पाने का मिला बेहतरीन इलाज !

    ENQUIRY FORM

    बालों का झड़ना काफी गंभीर समस्या है और इसको लेकर लोग काफी परेशान भी होते है, वहीं झड़ते बालों को रोकने के लिए लोग तरह-तरह के उपचार को भी अपनाते है पर इसका कोई भी असर बालों पर कई दफा देखने को नहीं मिलता। इसके अलावा झड़ते बालों की समस्या से बचाव के लिए आपको किन बातों का खास ध्यान रखना चाहिए, और झड़ते बालों की समस्या से बचाव के लिए इलाज क्या है इसके बारे में आज के लेख में चर्चा करेंगे ; 

    गंजेपन की समस्या क्या है ? 

    गंजेपन की स्थिति में सिर के बाल बहुत कम रह जाते है। गंजापन की मात्रा कम या अधिक हो सकती है। गंजापन को एलोपेशिया भी कहते है। जब असामान्य रूप से बाल झड़ने लगते है और नये बाल उतनी तेजी से नहीं उग पाते या फिर वे पहले के बाल से अधिक पतले या कमजोर उगते है। इसके चलते बालों का कम होना या कम घना होना शुरू हो जाता है और ऐसी हालत में सचेत और सावधान हो जाना चाहिए, क्योंकि यह स्थिति गंजेपन की ओर ले जाती है।

    गंजेपन के कारण क्या है ?

    • हार्मोनल में बदलाव का आना। 
    • आनुवंशिकता। 
    • शरीर में आयरन व प्रोटीन की कमी का होना। 
    • वजन का तेजी से घटना।
    • ज्यादा मात्रा में विटामिन-ए का सेवन।
    • बालों की जड़ों में संक्रमण का फैलना। 
    • ट्रॉमा की समस्या। 
    • गर्भनिरोधक गोलियों का ज्यादा सेवन। 
    • दवाओं के साइड इफेक्ट। 
    • तनाव की समस्या। 
    • महिलाओं में प्रसव यानि डिलिवरी के दौरान बालों का झड़ना। 
    • महिलाओं में मेनोपॉज के दौरान। 
    • कैंसर के इलाज की कीमोथेरेपी के बाद। 
    • टाईट हेयर स्टाईल के कारण। 
    • थायरॉइड की बीमारी के कारण। 
    • बालों में डाई, कलर और केराटिन हेयर ट्रीटमेंट से। 
    • डायट में बदलाव करने के कारण। 
    • लम्बी और गंभीर बीमारी के कारण। 
    • एनीमिया की समस्या होने पर। 

    अगर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ रहें है, तो इससे बचाव के लिए आपको पुणे में हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी का चयन करना चाहिए।

    गंजेपन के प्रकार कितने है ?

    गंजेपन के मुख्यतः तीन प्रकार का होते है –

    एंड्रोजेनिक एलेपिसिया :

    यह महिलाओं से ज्यादा पुरुषों को होता है। इसलिए इसे पुरुषों का गंजापन भी कहा जाता है। यह स्थायी किस्म का गंजापन है और एक खास ढंग से खोपड़ी पर उभरता है। यह कनपटी और सिर के ऊपरी हिस्से से शुरु होकर पीछे की ओर बढ़ता है। यह जवानी के बाद किसी भी उम्र में शुरु हो सकता है और व्यक्ति को आंशिक रूप से या पूरी तरह गंजा कर सकता है।

    एलोपेसिया एरीटा :

    इसमें सिर के अलग-अलग हिस्सों में जहां-जहां के बाल गिर जाते है। जिससे सिर पर गंजेपन का पैच-सा दिखता है। इसकी वजह अब तक अनजान है पर माना जाता है कि यह शरीर की रोगप्रतिरोधी शक्ति कम होने के कारण होती है।

    ट्रैक्शन एलोपेसिया :

    यह लंबे समय तक एक ही ढंग से बाल के खिंचे रहने के कारण होता है। जैसे, कोई खास तरह से हेयरस्टाईल या चोटी रखना। लेकिन हेयरस्टाईल बदल देने पर बाल के खिंचाव को खत्म कर देने के बाद इसमें बालों का झड़ना रुक जाता है।

    झड़ते बालों से बचाव के लिए बेहतरीन घरेलु उपचार क्या है ?

    • नारियल तेल शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचाते है। इसका इस्तेमाल खान-पान से लेकर बाल मजबूत करने तक के लिए किया जाता है। नारियल तेल में कुछ खास औषधीय गुण पाए जाते है, जो गंजेपन तथा बाल झड़ने कि समस्या को दूर करने में मदद करते है। शायद यही कारण है कि डॉक्टर भी कई बार इस परेशानी से बचने के लिए मरीज को नारियल तेल का इस्तेमाल करने की सलाह देते है। रात को सोने से पहले सिर में अच्छे से नारियल तेल कि मालिश करें और फिर सुबह उसे पानी के साथ अच्छे से धो लें। नारियल के तेल में नींबू की कुछ बूंदों को मिलाकर बालों में लगाने से और अधिक फायदा होता है।
    • काली मिर्च और नींबू के बीज के इस्तेमाल से भी गंजेपन से मुक्ति पाई जा सकती है। काली मिर्च और नींबू के बीज को बारीक पीसकर पाउडर तैयार करें। फिर उस पाउडर का पेस्ट बनाने के बाद रात में स्कैल्प पर उसकी हल्की मालिश करें तथा रातभर उसे वैसे ही छोड़ दें। सुबह नींद से जागने के बाद अपने सिर को अच्छी तरह से धोएं। कुछ सप्ताह तक लगातार ऐसा करने से बालों के झड़ने कि समस्या खत्म हो जाती है तथा नए बाल उगने और बालों को मजबूत होने में भी मदद मिलती है।      
    • जैसे प्याज खाने का जायका बदल देता है वैसे ही यह बालों के झड़ने कि समस्या को भी दूर करता है। इसके अंदर कुछ ऐसे तत्व पाए जाते है, जो गंजेपन को दूर कर बालों को मजबूत बनाने का काम करते है। इसका इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले अपनी जरूरत मुताबिक प्याज को पीसने के बाद उसमें शहद मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें। फिर उस पेस्ट को अपने सिर पर अच्छी तरह से लगाएं। 
    • आमतौर पर लोग एलोवेरा का इस्तेमाल स्किन और चेहरे कि खूबसूरती को बढ़ाने के लिए करते है। लेकिन क्या आप जानते है कि एलोवेरा कि मदद से गंजेपन और बाल झड़ने कि समस्या को भी दूर किया जा सकता है। इतना ही नहीं, इसकी मदद से बालों के रूखेपन, सूखेपन, बालों का पतला होना, बालों का कमजोर होना और बालों में डेंड्रफ होने जैसी समस्याओं को भी दूर किया जा सकता है। 
    • कैस्टर ऑयल में ऐसे औषधीय गुण पाए जाते है, जिनकी मदद से बाल झड़ने कि समस्या को आसानी से रोका जा सकता है। यह बहुत ही प्रभावशाली रूप से स्कैल्प और बालों को उनके आवश्यकता अनुसार पोषक तत्व प्रदान करता है। जिससे बालों का झड़ना कम एंवम धीरे-धीरे खत्म हो जाता है। अगर आप भी गंजेपन से परेशान है, तो कैस्टर ऑयल की मदद से खुद की परेशानी को घर बैठे दूर कर सकते है।
    • गंजेपन को दूर करने वाले घरेलू नुस्खों में मेथी के दानों को भी बहुत प्राथमिक्ता दी जाती है। इसमें कुछ औषधीय गुण पाए जाते है, जो बाल झड़ने और गंजेपन कि समस्या को दूर करने में काफी मददगार साबित है। अगर आप भी अपने बालों के झड़ने से परेशान हो गए है, तो मेथी के दानों को पीसकर उसका पेस्ट तैयार करें और फिर अपने सिर पर अच्छे से लगाएं। 
    • नीम के पत्तों में कुछ खास ऐसे औषधीय गुण पाए जाते है, जो बालों को झड़ने से रोकने के साथ-साथ इसे हर तरह के इंफेक्शन से भी बचाते है। इतना ही नहीं, नीम के पत्तों को सिर पर लगाने से ब्लड सर्कुलेशन तेज होता है, जिसकी वजह से बाल मजबूत होते है तथा गंजेपन से छुटकारा मिलता है। अगर आप भी गंजेपन यानी की बाल झड़ने की समस्या से परेशान है तो नीम के पत्तों का इस्तेमाल करें। 
    • अगर आप अंडे का इस्तेमाल कर सकते है तो ये भी बालों को मजबूत करने, बालों को टूटने और झड़ने से बचाने के लिए एक बेहतरीन विकल्प माना जाता है। इसका इस्तेमाल दही, शहद या नारियल तेल के साथ किया जा सकता है। आप चाहें तो केवल अंडे के जर्दी का भी इस्तेमाल कर सकते है। बालों को झड़ने से रोकने में यह बड़ी भूमिका निभाता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आप सबसे पहले एक अंडा और दो चम्मच हेयर ऑयल लें जो आप इस्तेमाल करते है।

    गंजेपन या बाल झड़ने का इलाज !

    • अगर आपके गंजेपन की समस्या इन घरेलु उपायों की मदद से ठीक न हो, तो इसके लिए आपको हेयर ट्रांसप्लांट सर्जरी का चयन करना चाहिए, लेकिन ध्यान रहें इस सर्जरी के बारे में आपको अच्छे से जानकारी जरूर होनी चाहिए। 
    • वहीं पंजाब में हेयर ट्रांसप्लांट की लागत कितनी है इसके बारे में जरूर जानकारी हासिल करें। 

    ध्यान रखें :

    इस सर्जरी को आप किसी बेहतरीन हॉस्पिटल या क्लिनिक से जरूर करवाए या आप चाहे तो इसके लिए ए एस जी हेयर ट्रांसप्लांट सेंटर का भी चयन कर सकते है। 

    निष्कर्ष :

    झड़ते बालों की समस्या से निजात हर व्यक्ति चाहता है, पर इससे निजात आप तभी पा सकते है जब आप अपने खाने-पीने का अच्छे से ध्यान रखेंगे और साथ ही सामान्य सी भी बालों में समस्या नज़र आए तो इसके लिए आप बेहतरीन सर्जन डॉक्टर का चयन भी कर सकते है।